RRB Recruitment 2019 : रेलवे NTPC 35,277 भर्ती नोटिफिकेशन में किए गए ये 7 बड़े बदलाव जानिए।

आरआरबी एनटीपीसी 2019 अधिसूचना: भारतीय रेलवे ने 2019 के लिए घोषित भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी है। आरआरबी एनटीपीसी 2019 के लिए ऑनलाइन आवेदन 28 फरवरी, 2019 से शुरू हुआ। आरआरबी में कुल 1,665 रिक्तियां उपलब्ध हैं।

RRB Recruitment 2019

आरटीबी द्वारा एनटीपीसी रिक्तियों के लिए भर्ती प्रक्रिया आयोजित की जा रही है। उन्होंने हाल ही में आरआरबी एनटीपीसी भर्ती के संबंध में एक कोरिगेंडम जारी किया है और आरआरबी एनटीपीसी भर्ती के लिए जारी आधिकारिक विज्ञापन / अधिसूचना में कुछ बदलाव किए हैं। एक आवेदक को एक पद और एक विशेष RRB के लिए आवेदन करने से पहले विस्तृत विज्ञापन के माध्यम से जाना चाहिए।

RRB NTPC 2019 notification ने किए गए ये बदलाव-

  1. अगर कोई परीक्षार्थी OBC/SC/ST/EWS/PwBD कैटेगरी के उम्मीदवार के तौर पर 1st stage CBT क्वालिफाई करता है तो उसे अगले चरण में भी OBC/SC/ST/EWS/PwBD कैटेगरी के तौर पर ही शॉर्टलिस्ट किया जाएगा।
  2. ऐसे उम्मीदवार जो ईडब्ल्यूएस रिजर्वेशन (जनरल कैटेगरी के गरीब लोगों के लिए 10 फीसदी आरक्षण या 10 फीसदी सवर्ण आरक्षण) के तहत आवेदन कर रहे हैं उन्हें सक्षम अथॉरिटी द्वारा जारी किया गया आय एवं संपत्ति प्रमाण पत्र (इनकम एंड एसेट सर्टिफिकेट) डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन की तिथि पर दिखाना होगा। ये आय एवं संपत्ति प्रमाण पत्र वित्तीय वर्ष 2017-2018 का होना चाहिए क्योंकि रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 31 मार्च, 2019 है।
    पहले के नोटिफिकेशन के मुताबिक ऑनलाइन एप्लीकेशन की अंतिम तिथि तक ये सर्टिफिकेट आवेदक के पास होना जरूरी थी क्योंकि इसकी डिटेल्स ऑनलाइन एप्लीकेशन में मांगी गई थी।
  3. ईडब्ल्यूएस कैटेगरी के लिए आय एवं संपत्ति प्रमाण पत्र कौन जारी कर सकता है? इसके लिए सक्षम अथॉरिटी की लिस्ट आरआरबी एनटीपीसी विज्ञापन के Annexure III में दी गई है।
  4. अगर कोई उम्मीदवार ईडब्ल्यूएस कैटेगरी आरक्षण पाने के नियमों पर खरा नहीं उतरता है तो इस कैटेगरी के तहत उसका आवेदन परीक्षा प्रक्रिया में आगे नहीं बढ़ाया जाएगा। हालांकि अगर वह उम्मीदवार जनरल कैटेगरी (अनारक्षित कैटेगरी) आवेदक की योग्यता को पूरा करता है तो उसे जनरल कैटेगरी का मान लिया जाएगा।
  5. रेलवे भर्ती बोर्ड ने स्क्राइब के लिए शर्त हटा दी है। पहले विज्ञापन में कहा गया था कि PwBD ( Persons With Benchmark Disability) उम्मीदवारों के स्क्राइब की अकादमिक योग्यता PwBD उम्मीदवार से एक स्टेप कम होनी चाहिए। लेकिन अब नोटिफिकेशन से यह शर्त हटा दी गई है।
  6. वह नियम भी हटा दिया गया है जिसमें यह कहा गया था कि भर्ती प्रक्रिया पूरी होने तक कोई जानकारी हासिल करने के लिए (यहां तक कि जो आरटीआई एक्ट के तहत मांगी गई हो) दायर किए गए आवेदन पर विचार नहीं किया जाएगा। इस शर्त को भी हटा दिया गया है।
  7. MD के मतलब को ‘Muscular Dystrophy’ की जगह अब ‘Multiple Disabilities’ पढ़ा जाए।
Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *